किसान, मजदूर व बहुजनों की आवाज के समर्थन में भारतीय संविधान सम्मान यात्रा

Azamgarh Azamgarh Admistration

आजमगढ़। भारतीय धम्म रक्षक भिक्खू महासंघ के तत्वाधान में किसान, मजदूर व बहुजनों की आवाज के समर्थन में भारतीय संविधान सम्मान यात्रा 26 जनवरी 2021 मंगलवार को अलीगढ़ से चलकर कासंगंज, बदायूँ, बरेली, शाहजहाँपुर, लखनऊ, फैजाबाद, अम्बेडकरनगर, जौनपुर होते हुए त्रिशरण बुद्ध बिहार हरबंशपुर आजमगढ़ में दिनांक 11.02.2021 को पहुॅची तथा रात्रि विश्राम के पश्चात गोरखपुर, कुशीनगर, बिहार, झारखण्ड आदि मार्गाें से होते हुए आगे के लिए प्रस्थान किया। यह यात्रा भिक्खु धम्म रक्षित के नेतृत्व में भिक्खू संघ भिक्खू विजय सोम, महाथेरों महेन्द्र रत्न, बोधि रत्न, बोधि प्रकाश आदि 50 भिक्खुओं संघ उत्तरोत्तर आगे बढ़ रही है।
संविधान सम्मान यात्रा का स्वागत करते हुए त्रिशरण बुद्ध बिहार समिति हरबंशपुर आजमगढ़ के प्रबन्धक पूर्व सांसद मा0 बलिहारी बाबू ने पूर्व सांसद मा0रमाकान्त यादव व श्री हवलदार यादव नि0 अध्यक्ष सपा की की उपस्थिति में कहा कि यद्यपि भारतीय संविधान को भारतीयों ने दिनांक 26.11.1949 को ही अंगीकार कर लिया था किन्तु व्यवहार में नहीं ला सके। आज भी व्यक्ति की गरिमा, राष्ट्र की एकता एवं अखण्डता सुनिश्चित करने वाली वन्धुता बढ़ाने के बजाय भारतीयों बीच नफरत, पाखण्ड, धोखाधड़ी, अन्याय, अत्याचार एवं जाति-जनित विद्वेश बढ़ता जा रहा है। ऐसा इसलिए है कि भारतीय लोग दो परस्पर विरोधी विचारधारा में जी रहे हैं। उनका राजनैतिक आदर्श भारतीय संविधान के प्रस्तावना में निहित है किन्तु सामाजिक जीवन में वे धार्मिक मान्यताओं को मान्यता प्रदान करते हैं जो एक दूसरे के परस्पर विरोधी है। तथा कटुता द्वेष व कलह क ेजनक है। आज भी भारतीय संविधान के अनुसार देश की सामाजिक व्यवस्था चलाने के लिए समाज में संविधान के प्रति चेतना पैदा करनी होगी।
इस अवसर पर समिति के पदाधिकारी श्री चन्द्रदीप, राजेन्द्र यादव प्रबन्धक, पंचम बाबू, डा0एस0के0 सिद्धार्थ, जी0एस0प्रियदर्शी, लालचन्द, रवि कुमार, रवि भूषण, जगधारी बौद्ध, सुशील कुमार आनन्द, सीता देवी, जागृति आनन्द, अनन्तशील कौशाम्बी, विजेन्द्र प्रसाद, ई0सहदेव प्रसाद, डा0आर0पी0 भारती, सुधीर कुमार आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *