गोपनीय आख्या के नाम पर शिक्षकों ने शोषण का लगाया आरोप दिया धरना – रिपोर्ट: अमन गुप्ता

Azamgarh Azamgarh Admistration

आजमगढ़ जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय पर आज शिक्षकों ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया और कहा कि मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री को ज्ञापन सौंपकर शासन द्वारा शिक्षा की गुणवत्ता के नाम पर प्रतिदिन इस प्रकार के आदेश निर्गत किए जा रहे हैं जो कि शिक्षा एवं शिक्षक दोनों को ही प्रतिकूल है उन्होंने कहा कि अभी तो उनका एक दिवसीय धरना है अगर सरकार नहीं चेतती है तो वह सड़क पर भी उतरने का काम करेंगे।

आजमगढ़ जिले के बीएसए कार्यालय पर धरना दे रहे हैं शिक्षक व शिक्षिकाओं का कहना है कि गोपनीय आख्या के नाम पर शिक्षकों का शोषण किया जा रहा है जो वह लोग बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि गोपनीय आख्या के खिलाफ शिक्षकों ने मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री को बेसिक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से एक ज्ञापन सौंपा है। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष का कहना है कि शासन द्वारा शिक्षा की गुणवत्ता के नाम पर प्रतिदिन इस प्रकार के आदेश निर्गत किए जा रहे हैं जो कि शिक्षा एवं शिक्षक दोनों के ही प्रतिकूल है। हाल में ही को गोपनीय आख्या के नाम पर शिक्षकों के मूल्यांकन संबंधी एक आदेश जारी किया गया है जिसमें विद्यालय कायाकल्प के अंतर्गत किए जाने वाले कार्यों के लिए भी शिक्षकों को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके अंक निर्धारित किए गए हैं। जबकि प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा इस प्रकार के आदेशों को व्यवहारिक बताया गया है। इसी प्रकार शिक्षकों की अन्य समस्याओं को लेकर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिला आजमगढ़ ने मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री को संबोधित 22 सूत्रीय ज्ञापन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से सौंपा है। उन्होंने कहा कि अभी तो उनका यह एक दिवसीय धरना चल रहा है अगर सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तो वह सड़क पर उतरने का भी काम करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *