प्रधान के चचेरे देवर का खून से लथपथ शव मिलने से सनसनी– रिपोर्ट: अमन गुप्ता

Azamgarh Azamgarh Crime

आजमगढ़ से जौनपुर दावत खाने गए महिला प्रधान हेमलता सिंह पत्नी पवन सिंह के चचेरे देवर युवक का खून से सना शव गुरुवार सुबह मार्टीनगंज-दीदारगंज मार्ग किनारे एक खेत में पड़ा मिलने से सनसनी मच गई। शरीर पर चाकू से कई जगह वार किया गया था। घटना के बाद भारी हुजूम जुट गया और लोगों में काफी आक्रोश था। आनन-फानन में पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया जिसके विरोध में लोगों ने मार्टिनगंज बुढ़नपुर मार्ग जाम कर दिया। अधिकारियों की मान मनौव्वल के बाद किसी तरह लोगों को शांत कराया जा सका। एसपी आजमगढ़ के अनुसार मृतक ठेकेदारी व अन्य काम करता था इसलिए इसमें लेनदेन के विवाद की आशंका है इसकी जांच कराई जा रही है। मृतक की शिनाख्त दीदारगंज थाना क्षेत्र के सुरहन गांव निवासी राकेश सिंह (40) के रूप में हुई है। उनके शरीर पर जख्म के कई निशान हत्या की पुष्टि कर रहे थे। ग्राम प्रधान हेमलता सिंह के परिवार का मृतक होने से मर्डर मिस्ट्री गहरा गई है। हालांकि, हत्या क्यों की गई, इसके बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं हो सका है। इलाकाई पुलिस शव को कब्जे में लेकर जांच में जुट गई है। इस बीच हत्‍या की सूचना पर स्‍थानीय लोग विरोध दर्ज करते हुए सड़क पर उतर आए। कई जगहों पर जाम लगा दिए। मार्टीनगंज के जैगहां मोड़ पर धरनारत परिजनों तथा जनता को समझाने में एसपी ग्रामीण सिद्धार्थ व क्षेत्राधिकारी फुलपुर जितेन्द्र कुमार जुटे रहे। परिवार के लोगों ने बताया कि राकेश बुधवार की शाम चार बजे दाढ़ी बनवाने की बात कहकर घर से निकले थे। लेकिन उनका देर शाम फोन आया कि दावत खाने जौनपुर जा रहा हूं। इस सूचना के बाद परिवार के लोगों को इत्मीनान हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *